गाँव बोडिया के पूर्वज करीब 400 साल पहले बालोर से आए थे|उस समय हूकम सिंह पुत्र श्री जागे राम व शेर सिंह पुत्र श्री राम जी लाल ने मकान बनाए,जो की इस समय एतिहासिक भवन माने जाते है| गाँव मे पनघट के समीप कुआँ गाँव बसने से पहले का है जो की एतिहासिक कुआँ माना जाता है|

गाँव बोडिया के पूर्वज करीब 400 साल पहले बालोर से आए थे|उस समय हूकम सिंह पुत्र श्री जागे राम व शेर सिंह पुत्र श्री राम जी लाल ने मकान बनाए,जो की इस समय एतिहासिक भवन माने जाते है| गाँव मे पनघट के समीप कुआँ गाँव बसने से पहले का है जो की एतिहासिक कुआँ माना जाता है|

 

होम

गाँव बोडिया के पूर्वज करीब 400 साल पहले बालोर से आए थे|उस समय हूकम सिंह पुत्र श्री जागे राम व शेर सिंह पुत्र श्री राम जी लाल ने मकान बनाए,जो की इस समय एतिहासिक भवन माने जाते है| गाँव मे पनघट के समीप कुआँ गाँव बसने से पहले का है जो की एतिहासिक कुआँ माना जाता है|

ग्राम पंचायत द्वारा निम्न लिखित योजनायें चलाई जा रही हैं

1. वृध पेंशन योजना           (1)
2. विधवा पेंशन योजन       (1)
3. बालिका सम्रिधि योजन  (2)